बड़े बड़े शहरो से अब छोटे छोटे गावो में भी तेज़ी से फैल रहा कोरोना वायरस का केहर [2020],news update in hindi

बड़े बड़े शहरो से अब छोटे छोटे गावो में भी तेज़ी से फैल रहा कोरोना वायरस का केहर

कुछ समय पहले लगभग 4 या 3 महीने पहले भारत के कई छेत्रो में जैसे चेन्नई ,पुणे ,जयपुर ,मुंबई , जोधपुर सबसे प्रभावित जिलों में से थे , और इस समय जुलाई के बाद इसमें काफी बदलाव आ चूका है

बड़े बड़े शहरो से अब छोटे छोटे गावो में भी तेज़ी से फैल रहा कोरोना वायरस का केहर
image source by Facebook

कोरोना बीमारी के भारत में आने के बाद से इस समय तक , अधिक प्रभावित राज्यों और सहरो की लिस्ट में भारत के कोई जिले ही शामिल थे. इससे ऐसा समझ में आ रहा था कि देश के सबसे प्रभावित कुछ जिले ही इस संकट का शिकार हुए हैं. लेकिन चिंताजनक बात ये है कि कोरोना का प्रकोप काफी तेजी से इन शहरों से फैल गया है और अब काफी सारे छोटे छोटे शहर और गांव के इलाके प्रभाव में आ रहे हैं.

इस विश्लेषण के लिए सिर्फ जिलेवार आंकड़ों को शामिल किया गया है. तेलंगाना जैसे राज्य जो जिलेवार आंकड़े नियमित रूप से जारी नहीं करते, उन्हें शामिल नहीं किया गया है.

कुछ महीने पहले यानी अप्रैल तक अहमदाबाद,मुंबई , चेन्नई, ठाणे, इंदौर, जयपुर और जोधपुर ही देश के सबसे प्रभावित जिलों में से थे.

लेकिन कुछ महीने बाद यानी जुलाई और अगस्त तक इस सूची में काफी बदलाव हो चुका है. पुणे साथ-साथ इंदौर और उसके आस पास के जिलों में तो लगातार कोरोना का केस बढ़ ही रहे हैं. लेकिन

AP के पूर्वी बेंगलुरु और बंगाल सहित भारत के कई बड़े बड़े जिलों और राज्यों ने टॉप 10 में जगह बना ली है, चेन्नई और पुणे में एक-एक लाख से ज्यादा कोरोना वायरस के केस सामने आ चुके हैं. और बिहार में भी अब ये तेज़ी से फ़ैल रहा है बिहार के पटना और कई जिलों में एक दिन में 180 से भी ज्यादा केस मिल रहे है

बड़े बड़े शहरो से अब छोटे छोटे गावो में भी तेज़ी से फैल रहा कोरोना वायरस का केहर
image source by https://covidindia.org/

इस हफ्ते को इन टॉप 10 सबसे ज्यादा कोरोना वायरस से प्रभावित जिलों में कुल अबतक 6.27 लाख कोरोना केस थे. भारत के टॉप 10 सबसे प्रभावित जिलों में अब हर महीने कोविड 19 के केस दोगुनी रफ़्तार से बढ़ रहे हैं.

लेकिन अगर देश के कुल कोविड 19 के केस के आंकड़े को देखें तो टॉप 10 प्रभावित जिलों का शेयर घट रहा है. मई की शुरुआत तक भारत के कुल केस में टॉप 10 सबसे प्रभावित जिलों का शेयर करीब 50 फीसदी था. पिछले महीने तक ये 40 हो गया था. और इस महीने के पहले हफ्ते तक टॉप 10 जिलों का शेयर 30 फीसदी घाट कर हो गया. ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि कोरोना का केहर अब भारत के छोटे छोटे इलाकों में फैलना चालू हो गया है.

 

इस हफ्ते में भारत में अरुणाचल प्रदेश के तीन जिले ऐसे थे, जहां अभी तक कोरोना वायरस के एक भी केस नहीं पाया गया है. देश में अब तीन जिले- पुणे, चेन्नई और ठाणे- ऐसे हैं, जहां एक-एक लाख से ज्यादा केस हैं.

Daily 100

Govt Jobs

 

Spread the love

Leave a Reply