मिनी इलेक्ट्रिक एसयूवी पर काम कर रही हुंडई, जानिए भारत में कब लॉन्च होगी और इसकी कीमत क्या होगी


  • हिंदी समाचार
  • टेक ऑटो
  • हुंडई मिनी इलेक्ट्रिक SUV पर काम कर रही है रिपोर्ट, जानिए भारत में उम्मीद की कीमत और लॉन्च की गई तारीख की उम्मीद

नई दिल्ली12 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट

दक्षिण कोरियाई कार दिग्गज ने 2025 तक कम से कम 16 फुली इलेक्ट्रिक मॉडल अपने लाइनअप में शामिल करने की योजना बनाई है।

  • कंपनी ने विशेष रूप से BEVs (बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन) के लिए Ioniq सब-ब्रांड भी बनाया है।
  • मिनी एसयूवी से शुरुआत करते हुए हुंडई ने भारत में नए ईवी मॉडल लॉन्च करने की योजना बनाई है।

इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को लेकर हुंडई मोटर कंपनी की भविष्य के लिए बड़ी योजनाएं हैं। दक्षिण कोरियाई कार दिग्गज ने 2025 तक कम से कम 16 फुली इलेक्ट्रिक मॉडल अपने लाइनअप में शामिल करने की योजना बनाई है, और इसके लिए कंपनी ने विशेष रूप से BEVs (बैटरी इलेक्ट्रिक वाहन) के लिए Ioniq सब-ब्रांड भी बनाया है। कंपनी मिनी एसयूवी से शुरुआत करते हुए भारत में भी नई ईवी लॉन्च करने की योजना बना रही है।

2023 तक आ सकता है हुंडई की मिनी एसयूवी

  • हुंडई की आधिकारिक वैश्विक ईवी रणनीति में कुछ मॉडल शामिल हैं जो भारतीय बाजार के लिए आदर्श हो सकते हैं, जिसमें एक बी-सेगमेंट एसयूवी (टाटा नेक्सन ईवी और महिंद्रा eXUV300 की कॉम्पीटिटर) और एक छोटे ए- सेगमेंट सीयूवी (एमएस फ्रीस्टाइल के समान) हैं। शामिल है। दूसरा वाला भारत के लिए सही विकल्प की तरह लगता है। इस नए EV के आने की टाइमलाइन तो कंपनी ने वर्तमान में मुहैया नहीं किया है, लेकिन यह 2023 तक आ सकता है। हालांकि कंपनी इससे पहले कोना इलेक्ट्रिक एसयूवी भारतीय बाजार में उतार चुकी है।
  • भारत जैसे क्वालिटी-सेंसिटिव बाजार में, किसी भी वाहन को प्रतिस्पर्धी रूप से कीमत देना बेहद जरूरी है। भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी को इसी सीमा के कारण ईवी सेगमेंट में कदम रखने में संकोच किया जा रहा है। एक इलेक्ट्रिक वाहन की कीमत एक समान गैसोलीन या डीजल चालित वाहन की तुलना में काफी अधिक है, मुख्य रूप से हाई मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट के कारण।

चीन से बैटरी आयात पर निर्भर भारतीय ईवी निर्माता
ईवी बैटरी भारत में नहीं बनाई जाती है, लेकिन उन्हें आरंभ करना पड़ता है। वर्तमान में, भारत के अधिकांश ईवी निर्माता चीन से बैटरी आयात पर निर्भर हैं। स्थापितणीय मैन्युफैक्चरिंग स्थापित करने से सिर्फ मैन्युफैक्चरिंग कॉस्ट कम होगी और बल्कि इलेक्ट्रिक वाहनों की कारें भी कम होंगी। एक बार ऐसा होने के बाद, ईवी एक और व्यावहारिक विकल्प बन जाएगा, जो कि अभी तक नहीं है।

पहले आंतरिक पार्कों में आने वाली उम्मीद
हमारे देश में ईवी इन्फ्रास्ट्रक्चर में भी लगातार सुधार हो रहा है, और सरकार टैक्स लाभ और इन्सेंटिव के माध्यम से ईवी खरीद को बढ़ावा देने की दिशा में भी काम कर रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में ईवी के लिए कम मांग को देखते हुए, उम्मीद की जा रही है कि हुंडई कि इस नए इलेक्ट्रिक CUV को भारत में लॉन्च करने से पहले कुछ आंतरिक प्लान में उतार हो सकता है।

हाई-रेंज मॉडल भी लॉन्च कर सकती है कंपनी
लॉन्च (उम्मीद के मुताबिक 2023 तक) होने पर, न्यू हुंडई इलेक्ट्रिक सीयूवी (क्रॉस-ओवर यूटिलिटी व्हीकल) टाटा की अपकमिंग एचबीएक्स इलेक्ट्रिक के लिए संभावित प्रतिद्वंद्वी होगा। हमें उम्मीद है कि इसकी कीमत 10 लाख रुपये के आसपास होगी। जो लोग बेहतर ड्राइविंग रेंज चाहते हैं, उनके लिए कंपनी अधिक कीमत वाले हाई-रेंज वैरिएंट मॉडल भी लॉन्च कर सकती है।




Source link

Spread the love

Leave a Comment