दिल्ली की हवा अब भी खराब, आज से सुधार की उम्मीद


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for simply ₹299 Restricted Interval Supply. HURRY UP!

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

दिल्ली की हवाएं अब भी खराब हैं। आज सुबह कई जगहों पर रिकॉर्ड की गई हवा की गुणवत्ता से यही पता चलता है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार आईटीओ, पटपड़गंज, आरके पुरम और रोहिणी में एक्यूआई 264, 228, 235 और 246 रहा। इन चारों स्थानों पर हवा की श्रेणी खराब रही।  

हालांकि कल तक राजधानी में हवा का स्तर खराब श्रेणी से मध्यम श्रेणी में पहुंच चुका था। मौसम विभाग की वायु मानक संस्था सफर के अनुसार, रविवार से हवा के स्तर में और सुधार देखने को मिल सकता है। शनिवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 197 दर्ज किया गया जो मध्यम श्रेणी में आता है, जबकि शुक्रवार को 200 था, जो खराब श्रेणी में आता है।

सफर के अनुसार, शनिवार को प्रदूषण का कारण पीएम 2.5 रहा। सफर के अनुसार, सूचकांक में सुधार होने से हवा का स्तर मध्यम श्रेणी में ही बना रहेगा। इसमें 12 अक्तूबर के बाद भी मध्यम श्रेणी में ही

सुधार होने की संभावना बनी हुई है। सफर के अनुसार, बंगाल की खाड़ी से आने वाली हवा में कम दबाव बना हुआ है। 

वहीं, राजधानी में उत्तर- पश्चिमी दिशा से दक्षिण- पूर्वी दिशा में हवा के बदलाव के कारण आगामी सप्ताह में हवा के सूचकांक में सुधार देखने को मिल सकता है। शनिवार को दिल्ली के पड़ोसी राज्य पंजाब व हरियाणा में कुल 253 पराली जलाने की घटनाएं पाई गई हैं। 

जहांगीरपुरी में सबसे खराब रहा हवा का स्तर

शनिवार को जहांगीरपुरी में हवा का  स्तर सबसे खराब दर्ज किया गया। यहां हवा का सूचकांक 267 और आईटीओ में 257 रहा। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमेटी के आंकड़ों के अनुसार, द्वारका के सेक्टर- eight में

सूचकांक 248, आनंद विहार में 230 दर्ज किया गया। 

दिल्ली की हवाएं अब भी खराब हैं। आज सुबह कई जगहों पर रिकॉर्ड की गई हवा की गुणवत्ता से यही पता चलता है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार आईटीओ, पटपड़गंज, आरके पुरम और रोहिणी में एक्यूआई 264, 228, 235 और 246 रहा। इन चारों स्थानों पर हवा की श्रेणी खराब रही।  

हालांकि कल तक राजधानी में हवा का स्तर खराब श्रेणी से मध्यम श्रेणी में पहुंच चुका था। मौसम विभाग की वायु मानक संस्था सफर के अनुसार, रविवार से हवा के स्तर में और सुधार देखने को मिल सकता है। शनिवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 197 दर्ज किया गया जो मध्यम श्रेणी में आता है, जबकि शुक्रवार को 200 था, जो खराब श्रेणी में आता है।

सफर के अनुसार, शनिवार को प्रदूषण का कारण पीएम 2.5 रहा। सफर के अनुसार, सूचकांक में सुधार होने से हवा का स्तर मध्यम श्रेणी में ही बना रहेगा। इसमें 12 अक्तूबर के बाद भी मध्यम श्रेणी में ही

सुधार होने की संभावना बनी हुई है। सफर के अनुसार, बंगाल की खाड़ी से आने वाली हवा में कम दबाव बना हुआ है। 

वहीं, राजधानी में उत्तर- पश्चिमी दिशा से दक्षिण- पूर्वी दिशा में हवा के बदलाव के कारण आगामी सप्ताह में हवा के सूचकांक में सुधार देखने को मिल सकता है। शनिवार को दिल्ली के पड़ोसी राज्य पंजाब व हरियाणा में कुल 253 पराली जलाने की घटनाएं पाई गई हैं। 

जहांगीरपुरी में सबसे खराब रहा हवा का स्तर

शनिवार को जहांगीरपुरी में हवा का  स्तर सबसे खराब दर्ज किया गया। यहां हवा का सूचकांक 267 और आईटीओ में 257 रहा। दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमेटी के आंकड़ों के अनुसार, द्वारका के सेक्टर- eight में

सूचकांक 248, आनंद विहार में 230 दर्ज किया गया। 

<!– if((isset($story['custom_attribute']) && $story['custom_attribute']=='outcomes') && (isset($story['custom_attribute_value']) && $story['custom_attribute_value']=='2020'))

10वीं और 12वीं बोर्ड का रिजल्ट सबसे पहले जानने के लिए नीचे दिए गए फॉर्म को भरें और अपना रजिस्ट्रेशन करवाएं।

endif –>



Source link

Spread the love

Leave a Comment