आकाश चोपड़ा ने कहा- धोनी पहली बार पांच बॉलर्स के साथ खेल रहे हैं, सीएसके के लिए टॉप ऑर्डर की नाकामी बड़ी दिक्कत

  • Hindi News
  • Sports
  • Former Participant Aakash Chopra Stated Dhoni Is Enjoying With 5 Bowlers For The First Time: Failure Of Prime Order Downside For Workforce

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

दुबई में आईपीएल के 13 वें सीजन में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को हराया। यह चेन्नई की लगातार दूसरी हार है।

  • शुक्रवार रात दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रन से हराया
  • तीन मैचों में चेन्नई की यह दूसरी हार है, उसकी बल्लेबाज क्लिक नहीं कर पा रही

आईपीएल सीजन-13 के एक मैच में शुक्रवार रात दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 44 रन से हरा दिया। तीन मैचों में धोनी की टीम की यह तीसरी हार है। पूर्व टेस्ट ओपनर आकाश चोपड़ा ने सीएसके की बल्लेबाजी पर सवालिया निशान लगाए हैं।

अपने यूट्यूब चैनल पर आकाश ने कहा- चेन्नई के टॉप ऑर्डर की नाकामी उनके लिए फिक्र की बड़ी वजह है। इसके चलते सीएसके का बैलेंस भी बिगड़ गया है। वे दो मैच हार चुके हैं। आकाश ने धोनी के पांच गेंदबाजों को खिलाने के फैसले पर कहा- धोनी पांच गेंदबाज के साथ खेलना पसंद नहीं है। मैंने पहली बार उन्हें पांचवें गेंदबाज के साथ खेलते देखा।

चोपड़ा ने कहा- टारगेट चेस करती नहीं दिखी चेन्नई

दिल्ली के खिलाफ मैच का जिक्र करते हुए चोपड़ा ने कहा- इस मैच में कभी ऐसा नहीं दिखा की चेन्नई 176 रन के टारगेट का पीछा कर रही है। ओपनर फिर टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दिला सके। शेन वॉटसन (14) और मुरली विजय (10) फ्लॉप रहे। टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज 10 ओवर में 47 रन ही बना सके थे। उनका रन रेट भी बेहतर नहीं रहा।

जडेजा महंगे साबित हो रहे हैं

चोपड़ा ने आगे कहा- धोनी की चिंता रविंद्र जडेजा को लेकर भी है। जडेजा महंगे साबित हो रहे हैं। इस सीजन के तीन मैचों को देखें तो साफ हो जाता है कि जडेजा ज्यादा रन दे रहे हैं। अब तक हर मैच में उन्होंने अपना बॉलिंग कोटा (four ओवर) पूरा किया और हर बार 40 से ज्यादा रन दिए। धोनी के पास सिर्फ पांच बॉलर हैं।

धोनी के बैटिंग ऑर्डर में दिक्कत नहीं

चोपड़ा ने कहा- अंबाती रायडू की गैर मौजूदगी में बैटिंग धोनी के चिंता का सबसे बड़ा कारण है। उनके लोअर ऑर्डर में जाने की आलोचना हो रही है। मैं समझ सकता हूं कि धोनी कहां और क्यों बैटिंग कर रहे हैं। ये देखना होगा कि धोनी रितुराज गायकवाड़ और विजय को किस नंबर पर बैटिंग करवा सकते हैं। केदार जाधव को नीचे भेजने का क्या फायदा होगा।

रैना का विकल्प नहीं

आकाश ने चेन्नई की बैटिंग पर आगे कहा- टॉप ऑर्डर में फाफ डु प्लेसिस (43) के अलावा कोई बल्लेबाज रन नहीं बना सका। वॉटसन रन बना सकते हैं। चिंता गायकवाड़ और विजय को लेकर है। धोनी अब रैना को मिस कर रहे हैं, उनका विकल्प नहीं मिल सका है। ऐसे में चेन्नई के लिए 180 रन का टारगेट हासिल करना मुश्किल है। वे 150-160 तक ही रन बना सकते हैं।

Source link

Spread the love

Leave a Comment